पाठकों से निवेदन

इस ब्लोग पर तंत्र, मंत्र, ज्योतिष, वास्तु व अध्यातम के क्षेत्र की जानकारी निस्वार्थ भाव से मानव मात्र के कल्याण के उद्देश्य से दी जाती है तथा मैं कोई भी फीस या चन्दा स्वीकार नहीं करता हुं तथा न हीं दक्षिणा लेकर अनुष्ठान आदि करता हुं ब्लोग पर बताये सभी उपाय आप स्वंय करेगें तो ही लाभ होगा या आपका कोई निकट संबधी निस्वार्थ भाव से आपके लिये करे तो लाभ होगा।
साईं बाबा तथा रामकृष्ण परमहंस मेरे आदर्श है तथा ब्लोग लेखक सबका मालिक एक है के सिद्धान्त में दृढ़ विश्वास रखकर सभी धर्मों व सभी देवी देवताओं को मानता है।इसलिये इस ब्लोग पर सभी धर्मो में बताये गये उपाय दिये जाते हैं आप भी किसी भी देवी देवता को मानते हो उपाय जिस देवी देवता का बताया जावे उसको इसी भाव से करें कि जैसे पखां,बल्ब,फ्रिज अलग अलग कार्य करते हैं परन्तु सभी चलते बिजली की शक्ति से हैं इसी प्रकार इश्वर की शक्ति से संचालित किसी भी देवी देवता की भक्ति करना उसी शाश्वत निराकार उर्जा की भक्ति ही है।आपकी राय,सुझाव व प्रश्न सीधे mckaushik00@yahoo.co.in (read 00 as zero zero) पर मेल कीये जा सकते है।

Monday, August 24, 2009

हकलाहट तुतलाहट का ज्योतिष के अनुसार कारण व निवारण


ज्योतिष में वाणी संबधि दोषों का कारण बुध ग्रह की प्रतिकुलता माना गया है। अतः बुध ग्रह का अनुभूत मन्त्र पेश है जिसका जाप कर हकलाहट तुतलाहट के रोगी अनुभव कर सकते हैं कि क्या वास्तव में वाणी दोष का कारण बुध का दोष था।

।।ॐ नजगजीक्षस्वामी ॐ नजगजीक्षस्वामी ।। (दो उच्चारण का एक मन्त्र हुआ)
इस मंत्र का जाप गणेश जी के सामने रोज 108 बार करें आप पहले दिन से ही 25 प्रतिशत फायदा देखेगें तथा धीरे धीरे पूर्ण फायदा देखेगें परन्तु ज्यादा ओप्टीमिस्टीक ना हों नार्मल व्यक्ति भी 10-15 प्रतिशत परिस्थिती के अनुसार अटक जाता है परन्तु वो इससे वहम नहीं करता।

अन्य उपाय भी करें जैसे 20 मिनट अनुलोम विलोम व प्रथम अक्षर लम्बा उच्चारित करना जिसे मैने मेरे मूल अंग्रेजी के ब्लोग में निम्न लिकं पर सरल अंग्रेजी में समझाया है भी पढ़ कर अपनायें तथा वाणी दोष समाप्त करें

Featured Post

भूत देखने के लिये प्रयोग

आप भूत प्रेत नहीं मानते हो तों एक सरल सा प्रयोग मैं आपको बता देता हूं ताकि आप भूत जी के दर्शनों का लाभ उठा सकें यह प्रयोग मुझे एक तांत्रिक ...

Google+ Followers